दांत दर्द के 10 देसी घरेलू इलाज – Tooth Pain Home Remedies in Hindi

दांत में दर्द होना काफी पीड़ादायक समस्या होती है जिसके कारण दांतों और जबड़ों के आसपास असहनीय दर्द होता है। दांत दर्द के सबसे मुख्य कारण हैं – कैविटी, इन्फेक्शन, दांतों की जड़ों का खुलना, दांत टूट जाना, मसूड़ों की बीमारी, दांत ढीले होना या jaw joint disorder की बीमारी होना

दांत में दर्द तब होता है जब दांतों के भीतर का हिस्सा, जिसे पल्प भी कहा जाता है, में सूजन या इन्फेक्शन हो जाये। पल्प में कई सारी तंत्रिकाएं (nerves) होती हैं इसलिए यह बहुत ही सेंसिटिव हिस्सा होता है।

यदि आपको दांतों में दर्द होता है तो सबसे पहले डेंटिस्ट से अपने दांतों की जाँच कराकर उसके सही कारण का पता लगायें। इसके आलावा कुछ घरेलू नुस्खे अपनाकर भी दांत दर्द का इलाज किया जा सकता है।

1. काली मिर्च और नमक

काली मिर्च और नमक के मिश्रण में एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-इन्फ्लेमेटरी और एनाल्जेसिक (पीड़ाहर) गुण होते हैं जो दांतों की सेंसिटिविटी को दूर करने में मदद करते हैं।

  • काली मिर्च और नमक को बराबर मात्रा में मिलाएं।
  • अब इसमें थोड़ा सा पानी डालकर पेस्ट तैयार करें।
  • अब इस पेस्ट को अपने दांतों और मसूड़ों में लगायें।
  • इस उपचार को लगातार कुछ दिनों के लिए रोज करें।

2. लहसुन

लहसुन के प्रयोग से भी दांतों के दर्द को ठीक जा सकता है। लहसुन में एंटीबायोटिक गुण होने के साथ-साथ कई और मेडिकल गुण होते हैं जो दर्द को कम करने में काफी मदद करते हैं।

  • एक लहसुन के टुकड़े को कूट लें और ऊपर से थोड़ा सा सेंधा नमक डाल दें। अब इसे अपने दर्द वाले दांतों पर लगा लें। आप इसे चबा भी सकते हैं।
  • इस उपचार को एक एक हफ्ते के लिए रोज करें।

3. लौंग

लौंग में एंटी-इन्फ्लेमेटरी, एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-ऑक्सीडेंट और अनेस्थेटिक प्रॉपर्टीज होती हैं जो दांतों के दर्द को कम करती हैं और इन्फेक्शन से लड़ती हैं।

  • दो लौंग को पीस लें। अब इसमें थोड़ा सा जैतून का तेल या अन्य वनस्पति तेल मिला लें। अब इसे अपने दांतों में लगा लें।
  • या फिर, एक रुई के टुकड़े को लौंग के तेल में भिगोकर मसूड़ों और दांतों की जड़ों में लगायें।

4. प्याज

प्याज में एंटीसेप्टिक और एंटी-माइक्रोबियल प्रॉपर्टीज होती हैं। यह इन्फेक्शन से पैदा हुए रोगाणुयों को खत्म करके दांत दर्द में आराम प्रदान करती है।

  • जब भी आपके दांतों में दर्द हो तो कुछ प्याज के टुकड़े चबाएं।
  • यदि आप इसे चबा नहीं सकते तो इसे मसूड़ों में दबाकर रख लें।

5. हींग

किसी प्रकार की दांतों की परेशानी जैसे दर्द या मसूड़ों में खून आने पर हींग का इस्तेमाल काफी फायदेमंद होता है।

  • दो चम्मच निम्बू के रस में आधा चम्मच हींग का पाउडर मिलाकर हल्का गर्म करें। अब एक रुई के टुकड़े को इसमें भिगोकर अपने दांतों और मसूड़ों में लगायें। दांत दर्द में यह आपको तुरंत राहत प्रदान करेगा।
  • या फिर, एक चम्मच में एक चुटकी हींग डालकर दर्द वाली जगह पर लगायें।

6. नमक का गर्म पानी

गर्म पानी में नमक मिलाकर इस्तेमाल करने से भी दांत दर्द से छुटकारा मिलता है।

एक गिलास गर्म पानी में आधा चम्मच नमक डालकर घोल लें। अब इस पानी से कुल्ला करें।

यह मसूड़ों की सूजन और इन्फ्लेमेशन को दूर करेगा और इन्फेक्शन फैलाने वाले बैक्टीरिया को खत्म करेगा।

7. अमरूद की पत्तियां

अमरूद की पत्तियों में एंटी-इन्फ्लेमेटरी, एनाल्जेसिक और एंटी-माइक्रोबियल प्रॉपर्टीज होती हैं जो दांत दर्द को कम करने में मदद करती हैं।

  • दो तीन ताजा अमरूद की पत्तियों को चबाएं। इससे निकलने वाले जूस को निगलें नहीं बल्कि मुंह में ही कुछ देर के लिए रखे रहें जिससे इसका पूरा फायदा मिल सके। आप कच्चे पालक की पत्तियों को भी चबा सकते हैं।
  • या फिर, चार-पांच अमरूद की पत्तियों को पानी में डालकर उबालें। जब या थोड़ा ठंडा गो जाये तो इसमें थोड़ा सा नमक मिला दें। अब इस पानी से कुल्ला करें या गरारे करें।

8. Vanilla Extract

Vanilla extract भी दांतों के दर्द को कम करने के लिए काफी प्रचलित इलाज है क्योंकि इसमें दर्द को मारने वाले गुण होते हैं। साथ ही दांतों पर इसका शांतिदायक प्रभाव भी होता है।

  • एक रुई के टुकड़े को vanilla extract में भिगोकर अपने दांतों में दबा लें।
  • ऐसा दिन में तीन-चार बार करें।

9. गेंहू के पौधे की पत्तियों का रस

गेंहू के पौधे में नेचुरल एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज होती हैं दांतों को सड़ने से बचाती हैं और दांत दर्द में आराम प्रदान करती हैं। साथ ही यह मसूड़ों में से विषाक्त पदार्थों को सोख लेता है, बैक्टीरिया की ग्रोथ को रोकता है और इन्फेक्शन नहीं होने देता।

  • गेंहू के पौधे की पत्तियों को पीसकर रास निकाल लें और इससे रोज सुबह शाम कुल्ला करें।
  • या फिर, इसकी पत्तियों को चबाएं।

10. बर्फ के टुकड़े

बर्फ तंत्रिकायों (nerves) को सुन्न करके दर्द में राहत प्रदान करता है।

  • एक छोटे से बर्फ के टुकड़े को कपड़े में बांध लें। अब इसे अपने दांत दर्द वाली जगह के पास गालों पर रखें। ऐसा कुछ मिनट के लिए करें।

नोट – बर्फ के टुकड़े को सीधे दांतों या मसूड़ों पर न रखें। यदि आपके दांतों की तंत्रिकाएं खुली हुई हैं तो बर्फ का इस्तेमाल न करें क्योंकि दर्द और बढ़ जायगा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.